राम रहीम के मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के साथ थे अवैध संबंध, हनीप्रीत के पति विश्वास गुप्ता ने किया ख़ुलासा ।

2 साध्वियों से बलात्कार के मामले में 20 साल की सज़ा पाए राम रहीम की दुनिया कम रंगीन नहीं है, मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ख़ुलासा हुआ है कि राम रहीम जिस हनीप्रीत इंसा को अपनी गोद ली हुई बेटी बताता है, उसी से उसके जिस्मानी ताल्लुक़ात हैं। सीबीआई अदालत के शिकंजे में फंसने के बाद राम रहीम पर जिस तरह से ख़ुलासे हो रहे हैं, उससे तो ‘बाबा’ नाम भी बोलने में या किसी को बाबा बताने में भी शर्म आने लगी है।

7f2091f1-5de9-456f-ba46-4edae2068bae

हनीप्रीत के पति और राम रहीम के दामाद विश्वास गुप्ता ने आज से 6 साल पहले साल 2011 में इंडिया टीवी को इंटरव्यू दिया जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि, राम रहीम जिस हनीप्रीत सिंह को अपनी मुंह बोली बेटी बताते हैं, उसी से उनके अवैध संबंध हैं। विश्वास ने ये भी आरोप लगाया कि, उन्होंने राम रहीम और अपनी बीवी हमनप्रीत सिंह को एक दिन खुद रंगे हाथ पकड़ा था। विश्वास गुप्ता का आरोप है कि राम रहीम के उसकी पत्नी हनीप्रीत इंसा के साथ पहले से संबंध थे इसिलिए उन्होंने सबके सामने उसे अपनी मुंहबोली बेटी बताया जिससे कि वो अपने रंगीन मिज़ाज और पाप को छुपा सकें।

India TV पर विश्वास गुप्ता
India TV पर विश्वास गुप्ता

दरअसल, ख़बर है कि डेरा प्रमुख राम रहीम के 20 साल जेल में रहने के दौरान उनकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसा डेरा सच्चा सौदा की विरासत को सम्भालेगी। हनीप्रीत के चर्चा में आने के बाद इंडिया टीवी को दिये गए उनके पति विश्वास गुप्ता का बयान फिर से सुर्खियों में है। विश्वास गुप्ता ने 2011 में इंडिया टीवी को बताया कि मई 2011 को एक रात जब वह डेरे में बाबा की गुफा की तरफ गए तो जो देखा उसने उनकी जिंदगी बदल कर रख दी। विश्वास ने बताया कि बाबा के कमरे का दरवाजा गलती से खुला रह गया था। उसने जब अंदर झांका तो देखा कि बाबा उसकी पत्नी और अपनी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के साथ आपत्तिजनक अवस्था में थे।

विश्वास गुप्ता के अनुसार 14 फरवरी 1999 को फतेहाबाद की प्रियंका से खुद बाबा राम रहीम ने उसकी शादी कराई। विश्वास का कहना है कि अगर बाबा गुरमीत राम रहीम मेरी पत्नी हनीप्रीत को बेटी मानते हैं तो फिर मुझे दूर क्यों रखते हैं। जब होटलों में बाबा जाते हैं तो मुझे बगल वाले कमरे में भेज दिया जाता था, जबकि मेरी पत्नी रात में बाबा के साथ रहती थी। बाबा मुंहबोली बेटी को दामाद के साथ रहने से क्यों रोकते हैं? हालांकि, आप नीचे क्लिक करके उस वीडियो को देख सकते हैं, जिसने साल 2011 में सनसनी मचा दी थी।

 

विश्वास गुप्ता ने पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में मुकदमा ठोंककर डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के कब्जे से बीवी को मुक्त कराने की मांग भी की थी। जिस पर कोर्ट ने हरियाणा के डीजीपी को एक्शन का निर्देश दिया था।

Team GI

Team GI is a group of committed individuals with National Interest in mind.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *