..तो, क्या इसलिए अनिल कुंबले ने टीम इंडिया के कोच पद से दिया इस्तीफ़ा ?

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
क्रिकेटर अनिल कुंबले के टीम इंडिया के कोच पद से इस्तीफ़ा देने के बाद चारों तरफ यही चर्चा है कि, कुंबले का जाना पहले से तय था। कहा ये भी जा रहा है कि कोच अनिल कुंबले और भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के बीच सब कुछ ठीक नहीं था, और इसी वज़ह से कुंबले ने टीम इंडिया से जाना सही समझा।
ICC चैंपियंस ट्रॉफी में भारतीय टीम बुरी तरह से हार चुकी थी लेकिन इससे ज्यादा हार वह अंदरूनी मामले में खाने वाली थी, और काफी दिनों से टीम के कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले के बीच चल रहे वैचारिक मतभेद ने बम का रुप अख़्तियार कर लिया और जब इसका विस्फोट हुआ तो, अनिल कुंबले ने अपना इस्तीफा दे कर पवेलियन वापस जाने का फैसला सुना दिया । हालांकि प्रशंसकों को कुंबले का यह फैसला जल्दबाज़ी में उठाया गया कदम लगता है लेकिन इसकी चिंगारी काफी पहले से ही सुलग चुकी थी जो बाद में ज्वालामुखी बनकर सामने आई । अनिल कुंबले ने ट्वीटर पर एक पोस्ट के जरिए इस बात की ओर साफ संकेत दिए हैं।
कुंबले प्रति
एक और महत्वपूर्ण बात यह भी सामने आई है कि सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की मुख्य सलाहकार समिति (सीएसी) ने भी कुंबले का कार्यकाल बढ़ाने को सीधे तौर पर हरी झंडी नहीं दिखाई थी.
ख़बरों की मानें तो, कप्तान विराट कोहली शुरू से ही नही चाहते थे कि कुंबले कोच बने, लेकिन BCCI ने उनकी पसंद और रवि शास्त्री को ज्यादा तवज़्ज़ो नहीं दी, लिहाज़ा विराट को अनिल कुंबले को ही अपना गुरु स्वीकार करना पड़ा. अंदरखाने की ख़बर ये  है कि पाकिस्तान के हाथों चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में मिली हार के बाद कोच अनिल कुंबले ने कुछ खिलाड़ियों से निजी रूप से मैच में उनके प्रदर्शन को लेकर बात की। कुंबले ने खास तौर पर गेंदबाजों के खराब खेल को लेकर बात की थी । कुंबले को उनकी यही पहल महंगी पड़ गई। और कहा ये भी जा रहा है कि कप्तान विराट कोहली ने साफ कर दिया कि कुंबले के साथ उनका तालमेल नहीं बन पा रहा है और वो उनके नेतृत्व में कप्तानी को तैयार नहीं हैं। जिसके बाद मौके की नज़ाकत को भांपते हुए कुंबले ने खुद ही टीम इंडिया के कोच पद से इस्तीफ़ा दे दिया ।
याद आता है 19 जून का इंग्लैण्ड के ओवल का वो मैदान जब स्टेडियम  खचाखच भरा था, जितना शोर स्टेडियम के अंदर था उससे कहीं ज्यादा सोशल मीडिया पर जारी गदहमागहमी थी। हो भी क्यों न, कश्मीर में रोज एक दूसरे से भिड़ने वाले भारत पाक क्रिकेट के मैदान में काफी दिनों के बाद फाइनल मैच खेल रहे थे, मौका था आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 का। सोशल मीडिया से लेकर मैदान तक एक ही बात के चर्चे थे कि इस बार भी भारत पाक को पटखनी देकर सीरीज अपने नाम करेगा। लेकिन, जब खेल शुरू हुआ तो बाज़ी पलटती नजर आयी, पाक ने शानदार खेलते हुए अपनी बढ़त बनाई लेकिन लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम आधे रनों में ही सिमट कर वापस पवेलियन लौटकर आईसीसी चैंपियंस सीरीज हार आई थी।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *