AAP में फैमिली ड्रामा ख़त्म… कुमार विश्वास का कद बढ़ा, अमानतुल्ला सस्पेंड

AAP में फैमिली ड्रामा ख़त्म… कुमार विश्वास का कद बढ़ा, अमानतुल्ला सस्पेंड

आम आदमी पार्टी के भीतर जारी घमासान के बीच बुधवार को दिल्ली में AAP की पीएसी की बैठक बुलाई गई। बैठक में आप नेता कुमार विश्वास ने केजरीवाल के सामने 3 शर्तें रखीं। जिसे केजरीवाल ने सहर्ष स्वीकार कर लिया। इसी के साथ बैठक में कुमार विश्वास का कद बढ़ाने का फैसला हुआ और विश्वास को राजस्थान का प्रभारी बना दिया गया। जबकि, अमानतुल्ला खान को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से भी बाहर का रास्ता दिखा दिया और मामले में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने अमानतुल्ला के खिलाफ जांच की बात कही है।

दरअसल, पार्टी विद डिफरेंस का दावा करने वाली आम आदमी पार्टी, दिन पर दिन विवादों में घिरती नज़र आ रही है। कभी पार्टी विधायकों पर संगीन आरोप लगे और उन्हें अपने-अपने पदों से हटना पड़ा वहीं अब पार्टी के नंबर एक और नंबर दो के नेताओं के बीच अनबन पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी कर रही है। एक तो अभी अरविंद केजरीवाल एमसीडी चुनावों की हार अभी पचा नहीं पाए हैं, और दूसरी ओर पार्टी के नेताओं के बीच ही विवाद की शुरुआत ने पार्टी की कमर तोड़कर रख दी है।

 

पीएसी की बैठक के बाद केजरीवाल, कुमार विश्वास
पीएसी की बैठक के बाद केजरीवाल, कुमार विश्वास

हाल ही में मीडिया को दिए गए इंटरव्यू में कुमार विश्वास ने ये साफ किया की आम आदमी पार्टी की गलत नीतियों की वजह से पार्टी को एमसीडी चुनावों में हार का सामना करना पड़ा। विश्वास ने इसका दोष सीधे-सीधे अरविंद केजरीवाल पर मढ़ा और कहा कि केजरीवाल का पीएम मोदी के नोटबंदी के अभियान का विरोध करना केजरीवाल और उनकी पार्टी आम आदमी पार्टी के लिए घातक सिद्ध हुआ है। एमसीडी चुनावों में बुरी तरह पराजय का सामना करने वाली आम आदमी पार्टी ने आनन-फानन में पीएसी की बैठक बुलाई और उसमें स्रवसम्मति से निर्णय लिया गया कि कुमार विश्वास को राजस्थान का प्रभारी बना देना चाहिए और कुमार विश्वास पर पार्टी तोड़ने का आरोप लगाने वाले अमानतुल्ला खान को पार्टी से सस्पेंड किया गया है।

पीएसी की बैठक के बाद आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने एक फोटो ट्वीट कर पार्टी के भीतर सबकुछ ठीक होने का दावा किया। लेकिन अब क्या वाकई पार्टी में सब ठीक-ठाक है, ये तो वक्त बताएगा। लेकिन, फिलहाल आम आदमी पार्टी पर संकट के बादल छटने का नाम नहीं ले रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *